सांसों की दुर्गंध दूर करने के साथ ही सौंफ के ये 14 फ़ायदे जानकर हैरान रह जाएंगे आप

0
31

होटल में भी आपने देखा होगा कि खाने के बाद आपको सौंफ दिया जाता है? क्या आपने कभी सोचा कि ऐसा क्यों है? क्यों आख़िर खाने के बाद सौंफ ही खाई जाती है कुछ और क्यों नहीं? दरअसल, लोग सौंफ इसलिए खाते हैं ताकि मुंह से दुर्गंध न आए, लेकिन इसके अलावा भी सौंफ के कई फ़ायदे हैं.

कब्ज़ से राहत

यदि आप लंबे समय से कब्ज़ से परेशान हैं, तो सौंफ से आपकी ये परेशानी दूर हो सकती है. कब्ज दूर करने के लिए 100 ग्राम सौंफ को पीसकर रख लें. रोज़ाना सुबह-शाम खाने के बाद इसे गुलाब के गुलकंद के साथ मिलाकर खाएं. जल्द फ़ायदा मिलेगा. रात में सोते समय गुनगुने पानी के साथ सौंफ का चूर्ण खाने से भी कब्ज़ से राहत मिलती है.

आंखों की बीमारी दूर होती है

आंखों से संबंधित कोई भी बीमारी सौंफ के नियमित प्रयोग से कम हो सकती है. इसके
निरंतर उपयोग से आंखें कमज़ोर नहीं होतीं. इतना ही नहीं मोतियाबिंद की शिकायत भी दूर हो जाती है. रोज़ाना एक बड़ा चम्मच सौंफ चबाएं. सौंफ और मिश्री को बराबर मात्रा में लेकर पीस लें. ये रोज़ाना एक चम्मच सुबह-शाम खाएं. आंखों की समस्याएं दूर हो जाएंगी.

पाचन शक्ति मज़बूत करता है

यदि आपको भी डाइजेशन की प्रॉब्लम हैं, तो सौंफ आपके लिए बहुत कारगर है. 50 ग्राम सौंफ और 50 ग्राम जीरा को भूनकर इसमें 25 ग्राम काला नमक मिलाकर चूर्ण तैयार करें. डेली खाना खाने के बाद इसे गुनगुने पानी के साथ खाएं. डाइजेशन ठीक रहेगा.

खट्टी डकार से राहत

क्या आप भी खट्टी डकार से परेशान रहते हैं और इस वजह से कुछ भी खाने का मन नहीं करता, तो चिंता छोड़िए और सौंफ का सेवन बढ़ा दीजिए. थोड़ी-सी सौंफ पानी में उबालकर मिश्री डालकर पीएं. दिन में दो-तीन बार पीने से आराम मिलेगा.

खांसी से राहत

मौसम बदलते ही क्या आपको भी खांसी की शिकायत होने लगती है. दवाइयां लेने के बावजूद खांसी ठीक नहीं होती, तो आप सौंफ खाना शुरू कर दें. सौंफ के अर्क में थोड़ा-सा शहद मिलाकर खाने से खांसी से आराम मिलता है. सौंफ को अंजीर के साथ खाने से भी खांसी दूर होती है.

पेट दर्द से राहत

क्या अक्सर आपको पेट दर्द की शिकायत रहती है? अगर हां, तो अब ये परेशानी दूर हो सकती है. सौंफ को भूनकर एक डिब्बे में रख लें. पेटदर्द होने पर इसे अच्छे से चबाइए. जल्द आराम मिलेगा.

गैस से राहत

अक्सर गैस की समस्या से परेशान हैं, तो खाना बनाते समय दाल व सब्ज़ी में सौंफ का तड़का लगाएं. ऐसा नियमित रूप से करने से जल्द ही आपको गैस की समस्या से राहत मिलेगी.

भूलने की बीमारी से निजात

आजकल बढ़ते तनाव के कारण क्या आपको भी भूलने की बीमारी हो गई है? तो परेशान होने की ज़रूरत नहीं है. रोज़ाना सौैंफ खाने से ये समस्या बहुत जल्द दूर हो जाएगी. इसके लिए सौंफ और मिश्री को बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बना लें. सुबह-शाम खाने के बाद 2 चम्मच ये चूर्ण खाएं.

बच्चों के लिए है फ़ायदेमंद

छोटे बच्चे अक्सर पेट की समस्या से परेशान रहते हैं. इससे बचने के लिए दो चम्मच सौंफ के चूर्ण को दो कप पानी में अच्छी तरह उबाल लें. एक चौथाई रह जाने पर इस पानी को छानकर ठंडा कर लें. इसे 1-1 चम्मच दिन में दो से तीन बार पिलाने से बच्चों में अपच, दूध पलटना, मरोड़ आदि शिकायतें दूर होती हैं.

स्मार्ट टिप्स

♣ गले में खराश होने पर सौंफ को चबाते रहने से बैठा गला साफ़ हो जाता है.

♣ उल्टी, जी मिचलाना, जलन, मरोड़ आदि में सौंफ का सेवन बहुत लाभकारी होता है.

♣ रोज़ाना सुबह-शाम 10-10 ग्राम सौंफ बिना मीठा मिलाए चबाने से ख़ून साफ़ होता है और त्वचा का रंग भी निखरता है.

♣ हाथ-पांव में जलन की शिकायत होने पर सौंफ और धनिया को समान मात्रा में मिलाकर कूट लें और इसमें मिश्री मिलाकर मिश्रण तैयार करें. खाना    खाने के बाद रोज़ाना एक चम्मच खाएं, फ़ायदा होगा.

♣ गर्मी में सौंफ की ठंडई बनाकर पीने से पेट ठंडा रहता है और पेट संबंधी कोई परेशानी भी नहीं होती.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here