सेहत से जुड़ी कई गलतफहमियां है विद्यमान, क्या आप जानते है ,जानकर दूर करें इन्हें

0
5

हर व्यक्ति अच्छी सेहत का स्वामी बनना चाहता हैं और चाहता है कि उसका स्वास्थ्य अच्छा बना रहे। व्यक्ति अपनी सेहत को अच्छी बनाए रखने के लिए अपनी आय का एक बड़ा हिस्सा खर्च कर देता हैं और सजग रहने के लिए जानकारी जुटाता हैं। लेकिन आज के इन्टरनेट और ऑनलाइन के ज़माने में सेहत से जुडी कई गलतफहमियां विद्यमान है, जिन्हें जानकर दूर करने की जरूरत हैं। इसलिए आज हम आपको उन गलतफहमियों और उनसे जुड़े सच के बारे में बताने जा रहे हैं। तो आइये जानते है इस बारे में।

* ठंडा मौसम हमेशा बनाता है बीमार *

बहुत से लोग मानते हैं कि ठंडे मौसम में लोग ज्यादा बीमार पड़ते हैं लेकिन ये धारणा गलत है क्योंकि गर्मियों के मुकाबले ठंडे मौसम में बीमारियां कम फैलती है।

* दातुन करना *

बड़े बुजुर्ग मानते हैं कि दांतों को साफ करने के लिए नीम की दातुन का इस्तेमाल करना चाहिए। ऐसा नही है पुराने समय का खान-पान नैचुरल होता था जबकि आज हमारा भोजन कैमिकलयुक्त हो गया है इसलिए दांतो की सफाई के लिए सोफ्ट ब्रश का प्रयोग करना चाहिए।

* सख्त चीजें नहीं खानी चाहिए *

भोजन में सख्त चीजें नही खानी चाहिए ये भ्रम गलत है क्योंकि सख्त चीज़े हमारे दांतों और मसूड़़ों को मजबूत बनाती हैं, इसलिए कभी-कभी गन्ना, अमरूद जैसी सख्त चीजें भी खानी चाहिए।

* खूनदान से शरीर में खून की कमी हो जाती है *

अक्सर लोग सोचते हैं कि खूनदान करने से शरीर में खून की कमी हो जाती है लेकिन ऐसा नही है बल्कि खूनदान करने के 48 घंटे के अंदर खून की पूर्ति हो जाती है। आप पहले जैसे सेहतमंद और फुर्तीले महसूस करोंगे। आप हर तीन महीने में बिना किसी सेहत समस्या के एक बार खूनदान कर सकते हैं। इससे शरीर में खून की कमी भी नही होगी।

* सिर से निकलती है सारी गर्मी *

आम धारणा है कि हमारे शरीर की गर्मी सिर से निकलती है। यह सोचना गलत है क्योंकि गर्मी शरीर के उन सभी अंगों से निकलती है जिन्हें हम कपड़ो से नही ढ़कते जैसे सिर, पैर, हाथ आदि।

* दूध पीने से कफ बनाता है *
ज्यादातर सुनने को मिलता है कि दूध पीने से कफ बनती है। ऐसा बिल्कुल नही है क्योंकि एक स्टडी में वायरल बुखार वाले कई मरीजों ने अपनी इच्छा से काफी मात्रा में दूध पिया। रिपोर्ट में शोधकर्ताओं ने पाया कि दूध पीने वाले मरीजों में से किसी को भी कफ की प्रॉब्लम नही हुई।

* एंटीबायोटिक के साथ बर्थकंट्रोल पिल नहीं लेनी चाहिए

कई लोगों का सोचना है कि गर्भ निरोधक गोलियां एंटीबायोटिक दवाओं के साथ नहीं लेनी चाहिए ऐसा करने से गोलियां सही असर नही करती। जबकि यह सोच गलत है गर्भ निरोधक गोलियों को नियत समय पर ही लेना चाहिए।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here