मंदबुद्धि नहीं बनना चाहते तो रात को तकिए के नीचे न रखें अपना फोन

0
50

मंदबुद्धि नहीं बनना चाहते तो रात को तकिए के नीचे न रखें अपना फोन, बिन बताए मिलेंगी कई बीमारियां

आधी रात तक अपने स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने के बाद कोई भी इंसान उठकर फोन को टेबल या कुर्सी पर रखने की जहमत नहीं उठाता। लेकिन नींद के कारण ये छोटा सा आलस आपके दिमाग की शक्ति कम कर अापको मंदबुद्धि बना सकता है।

तकिए के नीचे रखा फोन साइलेंट किलर की तरह काम करता है। कई रिसर्च से ये साबित हो गया है कि मोबाइल फोन से निकलने वाला खतरनाक रेडिएशन आपके दिमाग पर बुरा प्रभाव डालता है। इससे आपको सिर दर्द, मसल पेन आदि दिक्कतें होने लगती हैं। 900mhz का सिग्नल ट्रांसमिशन आपकी बॉडी सिस्टम के लिए काफी खतरनाक है। रिसर्च रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोबाइल फोन रेडिएशन आपके प्रोडक्टिव सिस्टम को प्रभावित कर स्पर्म काउंट कम कर सकता है। यानि अगर आप मर्द हैं तो आपके पिता बनने की क्षमता पर भी स्मार्ट फोन का रेडिएशन भयानक असर डाल सकता है।

कुछ समय पहले WHO ने चेतावनी जारी की थी कि आप कैंसर के रिस्क से बचना चाहते हैं तो फोन पर बात करते वक्त या तो ईयरफोन या फिर स्पीकर का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही सोते समय फोन को या तो ऑफ कर दें या फिर एयरप्लेन मोड पर लगा दें। जरूरी कॉल्स आनी हो तो खुद से दूरी पर रखें। एक अन्य रिसर्च के मुताबिक, बार-बार फोन के इस्तेमाल से इससे निकलने वाली रेडियो फ्रीक्वेंसी से आपके मेटाबाॅलिजम यानी खाने को पचाने में दिक्कत आती है। साथ ही कई शोध से इस बात का भी पता चला कि इससे कई खतरनाक बीमारियां भी हो सकती हैं।

रिसर्च से पता चला है कि कई बार हम छोटी-छोटी परेशानियों को नजरअंदाज कर देते हैं, जैसे थकान या चक्कर आना। ये बीमारी के लक्षण हैं और ये मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल से हो सकता है। साथ ही ये भी बताया गया है कि मोबाइल को कभी खुले में नहीं रखना चाहिए। मोबाइल के लगातार शरीर के संपर्क में रहने से भी कई तरह की बीमारियां हो सकती है। इनसे बचने के लिए फोन पर हमेशा कवर का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही साथ मोबाइल फोन को तकिए के नीचे रखने पर इसके फटने का खतरा भी बना रहता है। कई बार ऐसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं, जब तकिए के नीचे रखा मोबाइल फट गया। इसलिए सोने से पहले अपना फोन या तो ऑफ कर लें या फिर उसे अपने से दूर रख लें।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here